Google+ Followers

सोमवार, 26 जुलाई 2010

8 दिन से डूबा है गांव

जयपुर. राजधानी से महज 35 किमी दूर बेणिया का बास गांव आठ दिन से बरसाती पानी में डूबा है। हैरानी यह है कि आपदा प्रबंधन सचिव तन्मय कुमार को सोमवार को इसका पता चला। जिला प्रशासन की बेबसी देखिए कि पानी निकालने में नाकाम रहने के बाद अब वह गांव को ही दूसरी जगह बसाने की तैयारी में जुट गया है। भास्कर संवाददाता बाबूलाल शर्मा, श्यामराज शर्मा और फोटो जर्नलिस्ट महेंद्र शर्मा ने इस गांव में जाकर लिया हालात का जायजा।


> 100 परिवार बेघर।

> तीन दिन में प्रशासन निकाल पाया महज 3.5 फीट पानी। अभी भी जमा है 7 फीट तक पानी।

> आसपास के खेतों में निकाला जा रहा है पानी, बारिश हुई तो यह फिर बन सकता है खतरा।

> मकानों में आई दरारें। कभी भी गिर सकते हैं एक दर्जन मकान।

> मवेशी मरे, दवाइयों का छिड़काव नहीं, महामारी फैलने का खतरा।

> एक स्कूल डूबा, दूसरे में शरण लिए हुए हैं ग्रामीण।



मुझे आज ही पता चला

कलेक्टर ने मुझे आज ही बताया है। कलेक्टर को कहा है कि सरकार से जो भी मदद चाहिए, बता दें।

— तन्मय कुमार, सचिव, आपदा प्रबंधन विभाग

शिफ्टिंग ही विकल्प

गांव को शिफ्ट करने के सिवा कोई चारा नहीं है। 80 परिवारों को हिंगोनिया गांव में शिफ्ट करेंगे। इनको जमीन दिखा दी है।

— कुलदीप रांका, कलेक्टर

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें