Google+ Followers

बुधवार, 15 दिसंबर 2010

सीबीआई खोलेगी बाघ की मौत के राज


बाबूलाल शर्मा 
जयपुर. सरिस्का अभयारण्य में जहर देकर मारे गए बाघ एसटी-1 की मौत के राज अब सीबीआई खोलेगी।

सीबीआई ने बाघ की हत्या के आरोपी परसादीलाल का पॉलीग्राफ (झूठ पकड़ने वाला) टेस्ट कराने की वन विभाग की अपील मंजूर कर ली है। परसादीलाल का बुधवार को दिल्ली में पॉलीग्राफ टेस्ट होगा। सीबीआई 2004-05 में भी सरिस्का में 27 बाघों की मौत की जांच कर चुकी है। उस समय मुख्य आरोपी संसारचंद्र को गिरफ्तार किया गया था। एसटी-1 सरिस्का में 15 नवंबर को मृत मिला था।

फोरेंसिक जांच में उसे जहर दिए जाने का खुलासा हुआ। वन विभाग ने 4 दिसंबर को कालाखेत निवासी परसादी लाल को गिरफ्तार किया। पूछताछ में परसादी के बार-बार बयान बदलने के बाद वन विभाग ने 13 दिसंबर को राजगढ़ न्यायालय से उसके ब्रेन मैपिंग, नारको टेस्ट और पोलीग्राफ टेस्ट अनुमति ली। 14 दिसंबर को विभाग ने सीबीआई के समक्ष पोलीग्राफ टेस्ट की एप्लीकेशन लगाई, जिसे मंजूरी देते हुए टेस्ट के लिए 15 और 16 दिसंबर की तारीख तय की गई।

एसटी-1 की हत्या के कारणों का खुलासा करने के लिए वन विभाग और सीबीआई मिलकर काम कर रहे हैं। परसादी का पोलीग्राफ टेस्ट भी इसी कड़ी का हिस्सा है। हर हाल में सच सामने लाएंगे। - आर एन मेहरोत्रा, प्रधान मुख्य वन संरक्षक